CKYC Kya Hota hai? CKYC Number Kya Hai in Hindi? CKYC Status कैसे चेक करें?

CKYC kya hota hai: इंडिया में KYC (KYC Full Form- Know Your Customer) की तरह CKYC (Full Form Of CKYC- Central Know Your Customer) है, जिसे केंद्र सरकार के द्वारा संचालित किया जाता है.

CKYC kya hai in hindi

Central KYC यानी CKYC सेंट्रल बजट 2012-13 में पेश किया गया था. जो 1 फरबरी 2017 से प्रभाव में आया . CKYC करवाने के बाद आपको बार बार अलग अलग जगह KYC करने की झंझट नहीं रहता है. 

इस लेख में हमने CKYC क्या है? (CKYC Kya hai / CKYC kya hota hai in hindi). CKYC Status kaise check karein?(CKYC Status कैसे चेक करें?) से सम्बंधित जितने भी संभावित प्रश्न बन सकते थे, हमने इस लेख में कवर किया है.

Contents hide

CKYC का क्या मतलब होता है?

CKYC Full form (Central Know Your Customer) या सेंट्रल केवाईसी(Central KYC), भारत सरकार की एक पहल है जो सभी वित्तीय क्षेत्र की संस्थाओं की नो योर कस्टमर (KYC) प्रक्रिया को एक खिड़की के नीचे लाती है। यह भारत के सिक्यूरिटीज एसेट रिकंस्ट्रक्शन एंड सिक्योरिटी इंटरेस्ट (CERSAI) की केंद्रीय रजिस्ट्री द्वारा प्रबंधित किया जाता है। केंद्रीय केवाईसी रजिस्ट्री (CKYCR) वित्तीय क्षेत्र में ग्राहकों के केवाईसी अभिलेखों का एक केंद्रीकृत भंडार है जो समान केवाईसी मानदंडों के साथ है और सभी वित्तीय संस्थानों के लिए सुलभ है।

CKYC kya hota hai in hindi? CKYC क्या होता है?

केंद्रीय स्तर पर होने वाली केवाईसी (KYC) की प्रक्रिया को सीकेवाईसी (CKYC या Central KYC) कहते हैं।किसी भी भारतीय के लिए केवाईसी (KYC) या सेंट्रल केवाईसी (CKYC या Central KYC) करवाना बहुत ही महत्वपूर्ण होता है।

Read Also:

e-KYC क्या है?

धरती कितने साल पुरानी है?

चाँद धरती से कितने साल पुरानी है?

भारत सरकार ने इस कार्यक्रम की घोषणा वर्ष 2012-13 के केंद्रीय बजट में की थी। जो 1 फरवरी 2017 से पूरे भारत में लागू कर दिया गया।एक महत्वपूर्ण बात, अगर आपने सी के वाई सी (CKYC या Central KYC) एक बार करा लिया तो इसे बार-बार करवाने की कोई आवश्यकता नहीं पड़ती है।

CKYC Number Kya Hai In Hindi [Video]

CKYC Number Kya Hota Hai? या KIN क्या होता है?

कोई भी भारतीय नागरिक जब सीकेवाईसी (CKYC या Central KYC) करवाता है, तो उसे 14 अंकों वाली एक संख्या दी जाती है।

यह 14 अंकों वाली संख्या विशिष्ट प्रकार की होती है जो सभी व्यक्तियों के अलग-अलग होते हैं। इन्हीं 14 अंकों वाले नंबर को KIN या सीकेवाईसी (CKYC या Central KYC) नंबर कहा जाता है।

KIN नंबर मिलने के बाद आप कहीं भी निवेश करना चाहते हैं। तो आप इन 14 अंकों वाली संख्या की मदद से निवेश के पात्र मान लिए जाएंगे। जबकि जिनके पास सीकेवाईसी नंबर नहीं होता है, उन्हें निवेश करने में परेशानी होती है।

CKYC या सेंट्रल केवाईसी कैसे करवाएं? 

Reserve Bank of India (RBI) के द्वारा मान्यता प्राप्त किसी भी भी नियमित संस्थानों से आप सीकेवाईसी या सेंट्रल केवाईसी करवा सकते हैं। CKYC के पूरी प्रक्रिया का संचालन SEBI, IRDA और PFRDA की निगरानी में किया जाता है।

इसके अलावा आप सीकेवाईसी या सेंट्रल केवाईसी Mutual funds, Stock Broker के द्वारा भी करवा सकते हैं, बशर्ते कि SEBI के द्वारा विनियमित होना चाहिए।

CKYC के कितने प्रकार होते हैं?

सीकेवाईसी के अकाउंट निम्नलिखित प्रकार के होते हैं।

CKYC kya hota hai
  1. नॉर्मल अकाउंट्स (Normal Accounts)
  1. सिंपलीफाईड मेजर्स अकाउंट्स (Simplified Major Accounts)
  1. मार्केड एल (Marked L)
  1. स्मॉल अकाउंट्स (Small Accounts)
  1. मार्केड एस (Marked S)
  1. ओटीपी बेस्ड ईकेवाईसी  अकाउंट्स (OTP Based ekyc Accounts)
  1. मार्केड ओ (Marked O)

CKYC या Central KYC के लिए जरुरी कागजात

CKYC या Central KYC करवाने के लिए आपको सबसे पहले सीकेआईसी रजिस्ट्रेशन अथॉरिटी के पास जाना होगा। जिसके बाद आपको वहां पर फॉर्म फिल करने को दिया जाएगा। उसके बाद उसके साथ कुछ डॉक्यूमेंट अटैच करने होंगे, जो इस प्रकार है: –

CKYC number kya hota hai
  1. एप्लीकेबल फॉर्म
  1. सेल्फ अटेस्टेड डॉक्यूमेंट
  1. आईडेंटिटी प्रूफ (Pan Card, Passport, Driving license, Voter ID)
  1. एड्रेस प्रूफ (आधार कार्ड)
  1. डेट ऑफ बर्थ जरूर भरें।
  1. ईमेल आईडी या फोन नंबर

CKYC Form कैसे भरें?

सीकेवाईसी (CKYC या Central KYC) का फॉर्म भरने के लिए आप ऑनलाइन या ऑफलाइन माध्यम से सीकेवाईसी फॉर्म को डाउनलोड कर ले या फिर खरीद ले।

CKYC Form

सी केवाईसी (CKYC या Central KYC) फॉर्म भरने के दौरान आपको इस बात का विशेष ध्यान देना होगा, की फॉर्म में किसी प्रकार का ओवर राइटिंग ना हो।

फॉर्म के सभी डब्बा में कैपिटल लेटर का ही यूज़ करें। फॉर्म को भरने के लिए काले बॉल पेन का इस्तेमाल करें। फॉर्म को किसी प्रकार से गंदा ना करें, क्योंकि बाद में आपको ही परेशानी होगी।

CKYC में FATCA का महत्त्व

अगर आप सेंट्रल केवाईसी करवाने के दौरान FATCA की घोषणा नहीं करते हैं, तो आपके c-kyc की प्रक्रिया अधूरी मानी जाएगी।

CKYC kya hai in hindi

इसलिए सीकेवाईसी करवाने से के दौरान FATCA की घोषणा निश्चित रूप से करें और हां अपना जन्म तिथि डालना बिल्कुल भी ना भूले।

Central KYC करवाने के क्रम में कौन कौन सी सूचना भरना अति आवश्यक है?

ईकेवाईसी करवाने के दौरान आपको निम्नलिखित सूचना भरना अनिवार्य है: –

  • आधार नंबर
  • जन्म तिथि
  • मां का नाम
  • निवेशक का पुराना नाम

यह सारी जानकारी निश्चित रूप से आपको सही-सही भरना चाहिए। इसके अलावा चुकी पैन कार्ड नंबर देना यहां जरूरी नहीं है। लेकिन मार्केट सिक्योरिटी की केवाईसी के मुताबिक पैन कार्ड बहुत ज्यादा जरूरी है। इसलिए आप पैन कार्ड भी जरूर डालें।

CKYC Form कैसे डाउनलोड करें?

सेंट्रल केवाईसी करवाने के लिए आपको 

CKYC करवाने के दौरान होने वाली Process

  • जब आप सी केवाईसी फॉर्म को भर कर जमा करते हैं, तो उपयुक्त एजेंसी के द्वारा इसे सत्यापित किया जाता है।
  • जैसे ही आपका फॉर्म वेरीफाई हो जाएगा। आपको KIN  या सीकेवाईसी नंबर जेनरेट करके दिया जाता है, जो कि 14 अंकों का होता है।
  • फिर यह KIN Number आपके रजिस्टर्ड मोबाइल या फिर ईमेल आईडी पर भेजा जाता है।
  • इसके बाद सेंट्रल केवाईसी की प्रक्रिया पूर्ण हो जाती है।

CKYC Online Status कैसे Check करें?

CKYC Online Status Check करने के लिए कुछ कंपनियां तथा KRA की वेबसाइट पर जाकर चेक कर सकते हैं। सीकेवाईसी स्टेटस जानने के लिए आप अपने PAN Card Number डाल कर चेक कर सकते हैं।

Account खोलने के कितने दिन बाद CKYC Number मिलता है?

CERSAI के मुताबिक RBI/IRDA/SEBI/PFRDA द्वारा नियमित जैसे बैंक, म्युचुअल फंड्स, इंश्योरेंस कंपनी इत्यादि में 10 दिन के पहले ही सभी KYC विवरण CKYC रिकॉर्ड रजिस्ट्री में अपलोड कर भी जाती है।

इसके बाद खाता धारक को एक CKYC नंबर जो कि 14 अंकों का होता है, जारी कर दिया जाता है। 

CKYC में Mobile Number कैसे अपडेट करें?

CKYC में मोबाइल नंबर अपडेट करने के लिए आप KYC के अधिकारिक वेबसाइट या किसी बैंक के अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर Mobile Number Update के option पर जाकर अपना मोबाइल नंबर अपडेट कर सकते हैं। अपडेट के दौरान आपके मोबाइल पर ओटीपी भेजा जाएगा।

CKYC में Email ID कैसे अपडेट करें?

सीकेवाईसी में ईमेल आईडी अपडेट करने के लिए आपके KYC के अधिकारी वेबसाइट या फिर जिस अकाउंट में जिस बैंक में आपका अकाउंट है, उसके अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ईमेल आईडी के ऑप्शन पर अपना ईमेल आईडी को अपडेट कर सकते हैं। इस दौरान आपको अपने ईमेल पर ओटीपी भेजा जाएगा, जिससे आपका ईमेल आईडी सत्यापित किया जाएगा।

क्या CKYC दुनिया के किसी भी नागरिक के लिए है?

इस समय CKYC सिर्फ निवासी और प्रवासी भारतीयों पर ही लागू है.
जो निवेशक पहले केवाईसी की प्रक्रिया पूरी कर चुके हैं, उन्हें CKYC में किसी अतिरिक्त जरूरत को पूरा नहीं करना है.

Central KYC Related FAQs

CKYC का Full Form क्या होता है?

CKYC Full Form:- Central Know Your Customer

KYC का Full Form क्या होता है?

KYC full form:- Know Your Customer

CKYC Number कितने अंकों का होता है?

CKYC Number 14 अंकों का होता है।

Conclusion

हम इस Blog के माध्यम से आपको सीकेवाईसी क्या होता है? CKYC Kya Hota hai? सीकेवाईसी नंबर क्या है? CKYC Number Kya Hai? सीकेवाईसी नंबर का स्टेटस कैसे चेक करें? CKYC Number Ka Status कैसे Check Karein?  सीकेवाईसी अकाउंट कितने प्रकार का होता है? इत्यादि से संबंधित सारे प्रश्नों के उत्तर हमने दिए। आपको c-kyc से संबंधित किसी भी प्रकार के प्रश्नों को कमेंट बॉक्स के माध्यम से हमें पूछ सकते हैं।

Share on:

Leave a Comment