बिहार का भूगोल !{Geography of Bihar}! बिहार का नक्शा!! Map of Bihar

बिहार भारत का एक महत्वपूर्ण राज्य माना जाता है। क्योंकि जनसंख्या के दृष्टिकोण से बिहार देश का तीसरा सबसे बड़ा राज्य है। तथा क्षेत्रफल के हिसाब से बारहवां सबसे बड़ा राज्य है।

भौगोलिक दृष्टिकोण से बिहार को गंगा नदी दो भागों में बांटती है। बिहार में गंगा नदी पश्चिम से पूर्व की ओर बहती है। बिहार के पश्चिम में उत्तर प्रदेश, उत्तर में नेपाल, पूर्व में पश्चिम बंगाल तथा दक्षिण में झारखंड से सटा हुआ है।

Bihar ka bhugol
Physical Map of Bihar

मगध मिथिला और भोजपुर इस राज्य के प्रमुख सांस्कृतिक केंद्र हैं। बिहार की राजकीय भाषा हिंदी और उर्दू है लेकिन इसके अलावा भी यहां बहुत सारी भाषाएं बोली जाती है जैसे कि भोजपुरी, मगही, मैथिली इत्यादि।

बिहार का इतिहास काफी गौरवान्वित करने वाला है क्योंकि मगध साम्राज्य के मौर्य और गुप्त राजवंश दोनों पूरे दक्षिण एशिया तक यहीं से शासन किया करते थे। साथ ही गौतम बुद्ध के द्वारा चलाया गया बौद्ध धर्म का भी उदय इसी पावन धरती से हुआ है।

बिहार की भौगोलिक संरचना ( Geographical Structure of Bihar)

यह उपोष्ण कटिबंधीय क्षेत्र के अंतर्गत आता है। बिहार भारत के पूर्वी क्षेत्र में 24°20’10″N और 27°31’15″N अक्षांशों और 83°19’50″E और 88°17’40”E देशांतरों के बीच स्थित है।

 बिहार को और आसानी से समझने के लिए बिहार को तीन हिस्सों में बांट सकते हैं 

bihar ka bhugol
बिहार का विभाजन (Division of Bihar)

दक्षिणी पठारी क्षेत्र 

यह क्षेत्र पूर्व में बांका और पश्चिम में कैमूर जिला के बीच स्थित है। दक्षिणी पठारी क्षेत्र में बहुत तरह की कठोर चट्टाने पाई जाती है जैसे कि गनीस, शिष्ट, ग्रेनाइट इत्यादि। इस क्षेत्र में कई प्रकार के शंक्वाकार पहाड़ियां मौजूद है जो बैथोलीम से बनी है जैसे प्रेत सील, रामशिला और जेटियन पहाड़ी।

गंगा का मैदान

अगर बात करें बिहार मैं गंगा मैदान की तो गंगा नदी बिहार को दो भागों में विभाजित करती है। एक उत्तर बिहार का मैदान और दूसरा दक्षिण बिहार का मैदान।

Know your future: जाने आपकी राशि क्या है? अपनी राशि खुद से जानें ?

उत्तर बिहार का मैदान पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, समस्तीपुर, बेगूसराय, सहरसा और कटिहार के मैदानी इलाके हैं। साथ ही गंगा नदी की बहुत सारी सहायक नदियां इन्हीं क्षेत्रों में आती है जैसे कोशी, गंडक, बूढ़ी गंडक, बागमती, कमला, सरयू आदि।

River System of Bihar
Map of River System in Bihar (बिहार की नदियाँ )

अगर बात किया जाए दक्षिणी बिहार के मैदान की तो इसका आकार उत्तर बिहार के मैदान की तुलना में सकरा है। क्षेत्र में कई पहाड़ियां है जैसे गया, राजगीर, बिहार शरीफ, शेखपुरा, जमालपुर, खड़कपुर इत्यादि।

जाने बिहार के मुख्यमंत्री और राज्यपाल Click view Button View

शिवालिक क्षेत्र

क्षेत्र बिहार के पश्चिमी चंपारण के उत्तरी भाग में लगभग 32 किलोमीटर लंबा और 6 से 8 किलोमीटर चौड़े क्षेत्र में फैली हुई है। और यह क्षेत्र पर्णपाती जंगल से घिरा हुआ है।

बिहार का राजनीतिक भूगोल

बिहार को राजनीतिक दृष्टिकोण से भी बांटा गया है ताकि राजनीतिक रूप से हरे क्षेत्र को पहचाना जा सके इसका विवरण हमने टेबल के फॉर्मेट में दिया है जिसे पढ़ना आसान हो जाएगा।

विभाजनजिले
पटनाभोजपुर, बक्सर, कैमूर, पटना, रोहतास, नालंदा
सारणसारण, सीवान, गोपालगंज
तिरहुतपूर्वी चंपारण, मुजफ्फरपुर, शिवहर, सीतामढ़ी, वैशाली, पश्चिम चंपारण
पूर्णियाअररिया, कटिहार, किशनगंज, पूर्णिया
भागलपुरबांका, भागलपुर
दरभंगादरभंगा, मधुबनी, समस्तीपुर
कोसी मधेपुरा, सहरसा, सुपौली
मगध अरवल, औरंगाबाद, गया, जहानाबाद, नवादा
मुंगेर बेगूसराय, जमुई, खगड़िया, मुंगेर, लखीसराय, शेखपुरा
प्रमंडल9
जिला38
अनुमंडल101
मंडल534
नगर निगम12
नगर परिषद्49
नगर पंचायत80

बिहार में बहने वाली प्रमुख नदियां कौन-कौन सी है?

  1. अजय नदी
  2. बागमती
  3. बूढ़ी गंडकी
  4. भुतही बलानी
  5. गंडकी
  6. गंगा
  7. घाघरा
  8. फाल्गु
  9. गंडकी नदी
  10. कमला
  11. कर्मनाश
  12. कोशी नदी
  13. महानंदा नदी
  14. मोहन
  15. पुनपुन
  16. सप्त कोशी
  17. सोन नदी

प्रमुख जलप्रपात

  1. धुआ कुंड जलप्रपात
  2. काकोलत जलप्रपात
  3. करकट जलप्रपात
  4. मधुवधानम जलप्रपात
  5. मंझर कुंड जलप्रपात
  6. उत्तरी टैंक जलप्रपात
  7. तेलहर जलप्रपात

बिहार के प्रसिद्ध लोक नृत्य एवं लोक नाटक (Bihar ke prasidh loknritya aur Loknatak)

बिहार में बहुत सारे प्रमुख लोक नृत्य और लोक नाटक प्रचलित है जिसका आयोजन छोटे-मोटे उत्सव से लेकर बड़े-बड़े त्योहार के मौके पर किया जाता है।

Famous loknritya and loknatak of Bihar
बिहार के प्रमुख लोकनृत्य और लोकनाटक

Read also:

छऊ नृत्य, करमा नृत्य, कटघोरा नृत्य, धोबिया नृत्य, पवरिया नृत्य, जोगिया नृत्य, झिझिया नृत्य, विद्यापति नृत्य, लौंडा नृत्य  इत्यादि ऐसे बहुत से लोग नृत्य हैं जिन्हें बिहार में परफॉर्म किया जाता है।

बिहार के प्रमुख लोक नाटक

विदेशिया

विदेशिया नृत्य की शुरुआत बीसवीं शताब्दी में हुए थे। यह नृत्य भोजपुरी क्षेत्र में बहुत प्रसिद्ध है। इस नृत्य में समाज के विरोधी मुद्दे को उठाया जाता है। जैसे गरीबी अमीरी, ऊंच नीच, जाति पाती जैसे मुद्दे को मंच पर प्रदर्शित किया जाता है। इस नृत्य में महिला कलाकार की भूमिका भी पुरुष कलाकार ही निभाते हैं।

डोमकच

अगर बिहार में कोई भी परिवारिक उत्सव मनाया जाता है। उसमें डोमकच नृत्य को प्रदर्शित किया जाता है। जिसमें पूर्णता सभी किरदार महिला के द्वारा निभाया जाता है।

जट जटिन

जट जटिन लोक नाटक खासकर महिलाओं के द्वारा खेला जाता है। जिसमें हर किरदार खासकर महिलाएं ही निभाती है। लेकिन कहीं-कहीं पुरुषों को भी देखा गया है। यह लोक नाटक सावन से कार्तिक मास की पूर्णिमा तक लोग खेलते हैं।

सामा चकेवा

सामा चकेवा लोक नाटक मिट्टी के किरदार मतलब मिट्टी के मूर्ति बनाकर परफॉर्म किया जाता है। यह खासकर बालिकाओं के लिए प्रसिद्ध लोक नाटक है। यह लोक नाटक कार्तिक शुक्ल सप्तमी से पूर्णमासी तक मनाते हैं।

भजन कीर्तन 

भजन कीर्तन भगवान श्री कृष्ण से जुड़ी सभी घटनाओं को लोगों द्वारा बहुत ही भाव से एक संगीत में पिरो कर गाया जाता है। भगवान श्रीकृष्ण से जुडी सभी लीलाओं को इसमें गाया जाता है।

FAQ ( Frequently Asked Question)

बिहार का नाम बिहार कब पड़ा?

बौद्ध धर्म के लोगों के द्वारा छपरा के चिरांद से 11 किलोमीटर दूर स्थित सारण जिला का सबसे महत्वपूर्ण स्थान विहार के नाम पर बिहार परा।

बिहार राज्य कब बना था?

बिहार राज्य की स्थापना 22 मार्च 1912 को हुआ था जिसका राजधानी पटना को बनाया गया।

बिहार से ओडिशा कब अलग हुआ?

 1 अप्रैल 1936 को बिहार और उड़ीसा तो अलग अलग राज्य बन गए।

बिहार का सबसे बड़ा जिला कौन सा है?

बिहार का सबसे बड़ा जिला पश्चिमी चंपारण है तथा दूसरा गया जिला है। 
जनसंख्या की दृष्टि से बिहार का सबसे बड़ा जिला पटना है।


बिहार की सीमा कितने राज्यों से लगती है?

बिहार की सीमा पश्चिम में उत्तर प्रदेश, पूरब में पश्चिम बंगाल, उत्तर में नेपाल तथा दक्षिण में झारखंड से सटा हुआ है।

आज के लेख में हमने बताया बिहार के भोगोलिक क्षेत्र के बारे में तथा उससे सम्बंधित कुछ बातें| अगर हमारा ये ब्लॉग आपको पसंद आया हो तो आप अपने दोस्तों के साथ शेयर करें.और अगर आप किसी भी टॉपिक पर लिखवाना चाहते हैं तो हमें कमेंट जरुर करें .

Share on:

Leave a Comment